INDvsBAN: कप्तान कोहली के दोहरे शतक से भारत ने 687 रन पर घोषित की पारी

हैदराबाद: कप्तान विराट कोहली (204) बल्लेबाजों के संयुक्त प्रदर्शन की बदौलत भारत ने बांग्लादेश के खिलाफ खेले जा रहे एकमात्र टेस्ट मैच के दूसरे दिन शुक्रवार को अपनी पहली पारी छह विकेट पर 687 के स्कोर पर घोषित कर दी. चोट के बाद वापसी करने वाले विकेटकीपर ऋद्धिमान साहा 106 और रवींद्र जडेजा 60 रन बनाकर नाबाद रहे. दोनों के बीच सातवें विकेट के लिए 118 रनों की नाबाद साझेदारी हुई.

टेस्ट क्रिकेट में भारत का यह पांचवां सर्वोच्च स्कोर है और लगातार तीन पारियों में 600 से अधिक का स्कोर खड़ा करने वाली भारत दुनिया की पहली टीम बन गई है. भारत के इस स्कोर में मुरली विजय (108), चेतेश्वर पुजारा (83) और अजिंक्य रहाणे (82) के भी अहम योगदान रहे.

पिछले दिन (गुरुवार) के स्कोर तीन विकेट पर 356 रनों से आगे खेलने उतरी भारतीय टीम को दिन का पहला झटका 456 के कुल योग पर रहाणे के रूप में लगा.

मैच के दूसरे दिन पारी को आगे बढ़ाने उतरे कोहली और रहाणे के बीच चौथे विकेट के लिए 222 रनों की शानदार साझेदारी हुई. इस बीच ताइजुल इस्लाम ने मेहदी हसन मिराज के हाथों रहाणे को कैच करा इस साझेदारी को तोड़ा.

चौथे विकेट के लिए कोहली और रहाणे ने तीसरी बार 200 से अधिक रनों की साझेदारी की, जो इस विकेट के लिए किसी भी भारतीय जोड़ी का सर्वाधिक है.

रहाणे ने अपनी पारी में 133 गेंदों का सामना करते हुए 11 चौके लगाए. रहाणे के पवेलियन लौटने के बाद साहा ने कोहली के साथ पारी को आगे बढ़ाया और लंच तक टीम का स्कोर 477 तक पहुंचाया.

लंच के बाद मैदान पर उतरे कोहली ने 124वें ओवर की पहली गेंद पर चौका लगाने के साथ ही अपने टेस्ट करियर का चौथा दोहरा शतक पूरा किया. कोहली लगातार चार श्रृंखला खेलते हुए चार दोहरे शतक लगाने वाले टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में पहले बल्लेबाज बन गए हैं. उन्होंने इस सूची में ऑस्ट्रेलिया के डॉन ब्रेडमैन और राहुल द्रविड़ को पीछे छोड़ दिया.

बांग्लादेश के खिलाफ सबसे अधिक रन बनाने वाले खिलाड़ियों की सूची में कोहली तीसरे स्थान पर हैं. इस सूची में शीर्ष पर दक्षिण अफ्रीका के खिलाड़ी ग्रीम स्मिथ का नाम है. उन्होंने बांग्लादेश के खिलाफ एक पारी में 232 रन बनाए.

इसके साथ ही कोहली, घरेलू सत्र में सबसे अधिक टेस्ट रन बनाने वाले खिलाड़ी भी बन गए हैं. इस सूची में दूसरे स्थान पर दिग्गज बल्लेबाज रहे वीरेंद्र सहवाग का नाम है.

कोहली और साहा ने पांचवें विकेट के लिए 39 रनों की साझेदारी कर टीम का स्कोर 495 तक पहुंचाया, लेकिन इसी स्कोर पर ताइजुल ने कोहली को एलबीडब्ल्यू आउट कर पवेलियन भेजा. कोहली ने अपनी पारी में खेली गई 246 गेंदों पर 24 चौके लगाए.

कोहली करियर में सातवें देश के खिलाफ टेस्ट खेल रहे हैं और वह उन सभी देशों के खिलाफ शतक लगा चुके हैं. कोहली ने अब तक पाकिस्तान और जिम्बाब्वे के खिलाफ टेस्ट मैच नहीं खेला है.

कोहली के आउट होने के बाद साहा का साथ देने आए रविचंद्रन अश्विन (34) अधिक देर तक मैदान पर नहीं टिक पाए और मेहदी हसन की गेंद पर सौम्य सरकार के हाथों कैच आउट होकर पवेलियन लौट गए. अश्विन जब आउट हुए, तब टीम का स्कोर 569 था. इसके बाद जडेजा ने साहा के साथ चायकाल तक बिना कोई और विकेट गंवाए टीम का स्कोर 620 तक पहुंचाया.

इससे पहले, भारत की ओर से गुरुवार को आउट होने वाले तीन बल्लेबाज लोकेश राहुल (2), मुरली विजय (108) और चेतेश्वर पुजारा (83) रहे. बांग्लादेश की तरफ से तइजुल ने तीन विकेट लिए, जबकि मेहदी हसन को दो और तस्कीन अहमद को एक सफलता हासिल हुई.