महाराष्ट्र का अब्दुल लश्कर आतंकी? नरेंद्र मोदी का संसदीय क्षेत्र दहलाने की थी तैयारी

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी से एक संदिग्ध आंतकी को गिरफ्तार किया है। एजेंसी को शक है कि आरोपी आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा का सदस्य हो सकता है, जिससे इस मामले को लेकर भी उसके खिलाफ जांच की जा रही है। पकड़े गए शख्स की पहचान अब्दुल नईम शेख के रूप में हुई है। नईम को हाल के दिनों में एनआईए ने गिरफ्तार किया था।
केस से जुड़े एक अधिकारी ने बताया कि उन्हें आरोपी से कुछ तस्वीरें और नक्शे मिले हैं। जिनसे पूरा शक होता है कि वो आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने के लिए वाराणसी पहुंचा है। कहा जा रहा है कि नईम शेख आर्मी कैंप और पॉवर प्रोजेक्ट को निशाने बनाना चाहता था। आरोपी मूल रूप से महाराष्ट्र के औरंगाबाद का है जो पिछले कुछ महीनों से खूफिया एजेंसियों के निशाने पर था।
रिपोर्ट के अनुसार संदिग्ध पिछले कुछ महीनों में देश के महत्वपूर्ण क्षेत्रों का दौरा कर चुका है। इस दौरान वो लश्कर हैंडलर के लगातार संपर्क में था। ये जानकारी सूत्रों के हवाले से हैं।

दूसरी तरफ सेना के आला अधिकारी ने बताया, ‘संदिग्ध आंतकी ने पिछले दिनों कश्मीर में सेना के ठिकानों का दौरा किया और एक हाईड्रो इलेक्ट्रोनिक प्रोजेक्ट के पास भी उसकी संदिग्धता देखी गई। वो कथित तौर पर हिमाचल प्रदेश के कसोल में भी जा चुका है। उसकी यहूदियों को भी नुकसान पहुंचाने की योजना थी। क्योंकि कसोल में ज्यादातर इस्राइली लोग निवास करते हैं।’
गौरतलब है कि पकड़े गए संदिग्ध से एनआईए और आईबी के अधिकारी कड़ी पूछताछ कर रहे हैं जिससे उसके हैंडलर को पकड़ा जा सके।